सुबह बिस्तर छोड़ने से पहले करे ये उपाय!!!

सुबह बिस्तर छोड़ने से पहले करे ये उपाय!!!wealth tips



हमारे वेद हमें कुछ अछा करने के लिए कहते है जिसका लाभ मनुष्य उठा सके | इसलिए हमारे ऋषियों ने भी इन् बातो को करने की सलाह दी है.ये सारी बाते करने से मनुष्य को बहुत लाभ होता है| यदि दिन की शुरुआत शुभ हो जाए तो पूरा दिन शुभ रहता है। इसीलिए शास्त्रों में दिन को शुभ बनाने के लिए छोटी-छोटी कई परंपराएं बताई गई हैं। इन्हीं परंपराओं में से एक परंपरा है सुबह उठते ही अपनी हथेलियों को देखना। इस परंपरा से कई लाभ मिलते हैं। यहां जानिए इस परंपरा से जुड़ी खास बातें

कर दर्शनम् परम्परा

सुबह नींद से जागने के बाद सबसे पहले यदि अपने हाथो की हथेलियों को आपस में जोड़कर और किताब की तरह खोल ले | इस मंत्र का जप करे और निचे दिए मंत्र का जाप करे |

मंत्र-

कराग्रे वसते लक्ष्मी: करमध्ये सरस्वती।
करमूले तू गोविन्दः प्रभाते करदर्शनम ॥

 

अर्थ – मेरे हाथ के आगे वाले भाग में महालक्ष्मी, मध्य भाग में सरस्वती और मूल भाग में भगवन विष्णु का वास है |  मैं इन्हे प्रणाम करता हूँ,इनके दर्शन करता हूँ



हमारी संस्कृति हमें कुछ बढ़िया करने के लिए प्रेरित करती है | जीवन के चार आधार – धरम, अर्थ, काम, और मोक्ष जिन्हे पुरुषार्थ कहा गया है | जो इन् चार आधारो के अनुकूल कार्य करते है उनको प्रभु की विशेष कृपा होती है | इन कर्मो से ही हम अपने जीवन को स्वर्ग बना सकते हैं और नरक भी बना सकते हैं | इन हाथो से ही सभी काम किये जाते है, ये ही पुरुषार्थ है इसलिए इनके दर्शन करके ही उठना चाहिए |

 

सुबह सबसे पहले इन हाथो के दर्शन करके महालक्ष्मी, सरस्वती और भगवन विष्णु की कृपा प्राप्त होती है | माँ लक्ष्मी से धन,माँ सरस्वती से ज्ञान और भगवन विष्णु से सभी सुखो की प्राप्ति होती है | इन् बातो से पता चलता है की कर्म करने से ही इंसान को सफलता मिल सकती है जैसे अथर्वेद में कहा गया है कृतं में दक्षिणे हस्ते जयो में सव्य आहितः