क्या कहता आपके नाम का पहला शब्द ‘E’ से ‘K’

www.ketanastrologer.com
KETAN ASTROLOGER BLOG




क्या कहता आपके नाम का पहला शब्द ‘E’ से ‘K’

www.ketanastrologer.com‘इ’ अक्षर की अंक संख्या पांच है
E (इ) – अंग्रेजी वर्णमाला का पांचवा अक्षर है । यह अक्षर बहुमुखी प्रतिभा का चिन्ह है । इस अक्षर से जिन व्यक्तियों के नाम शुरू होते है वो कोई भी बात गोपनीय नहीं रख सकते । सामने कैसा भी व्यक्ति खड़ा हो अफसर हो या नेता बेबाक अपनी बात बोलना इनका स्वभाव है । ऐसे व्यक्तियों का मस्तिष्क योजनाबद्ध ढंग से काम करता है । ये कभी खाली या निट्ठले नहीं बैठते तथा स्पष्ट और पवित्र विचार ही इनके जीवन के मापदंड होते है । अपने इन्ही जीवन सद्गुण के आधार पर ये लोग अपनी उन्नति का मार्ग प्रशस्य करते है । इनके विचारो, कार्य तथा प्रतिदिन के सिद्वान्तों पर नवीनता होती ही है । इन्हें हमेशा नए क्रियाकलाप ही पसंद होते है और ये चाहते है की जीवन में कुछ भी हो ये नवीनता का घोतक तो होना ही चाहिए । पुराने सड़े-गले तकियानुसी विचारों से इन्हें घृणा होती है ।

www.ketanastrologer.com



‘ऍफ़’ अक्षर की अंक संख्या आठ है

F ( ऍफ़ ) – ये अक्षर घरेलूपन का प्रतीक है । फैमली शब्द इस अक्षर से ही बनता है ,ये परिवार को सुचारू रूप से चलाना अपना कर्तव्य और उत्तरदायित्व मानते है । इस अक्षर के नाम वाला व्यक्ति स्वय भी प्रसन्न रहते है और परिवार को भी प्रसन्न रखते है । अनैतिक कार्य से प्राय इन्हे घृणा होती है तथा इस प्रकार के कामों से ये सद्दा बचते है और प्रेम ,सत्य ,माधुर्य और परोपकार ही इनके जीवन का मूल मन्त्र है । ये व्यक्ति अपने ही कार्य में मस्त रहते है तथा समाज के श्रेष्ठ रत्न कहे जा सकते है ।

www.ketanastrologer.com



G (जी ) : जिन व्यक्तियों का नाम अंगरेजी के ‘जी’ अक्षर से शुरू होता है उनका जीवन और चरित्र प्राय श्रेष्ठ होता है । सादगी सफाई और शिष्टता आदि गुण इनके व्यक्तित्व के श्रेष्ठ आभूषण होते है । इनके व्यक्तित्व के कारण ही दूसरे व्यक्ति स्वत इनके और आकर्षित होते है क्योंकि इनके व्यक्तित्व में कुछ जादू सा होता है । ऐसे व्यक्ति अपने जीवन में नैतिक मूल्यों पर सदा दृढ़ रहते है , सभी कार्य योजनाबद्ध तरीके से करते है तथा कार्य आरम्भ करने से पहले पूरी योजना बना लेते है और उसी के अनुसार कार्य करते है है इसलिए ये सदा अपने कार्य में सफल होते है । इन्हें आत्म नियंत्रण में पूर्ण विश्वास होता है । तथा ये उस पर दृढ़ रहते है । इनकी बातचीत का ढंग भी बड़ा शिष्ट , मधुर होता है । ऐसे व्यक्ति जीवन में सफल रहते है ।

www.ketanastrologer.com



H (‘एच’) : ऐसे व्यक्ति जिनके नाम का प्रथम अक्षर ‘एच’ होता है जरूरत से ज्यादा समझदार होते है । दिखावा उन्हें अच्छा लगता है , दिखावा करते है तथा ऊंचा उठने की प्रबल महत्वकांक्षा भी रखते है । इन्हे श्रम में अधिक विश्वास नहीं होता है परन्तु ये श्रम का भी दिखावा अवश्य करते है । ये दिखते है की ये अत्यधिक व्यस्त है और कड़ी मेहनत कर रहे है ।

www.ketanastrologer.com



I ( ‘आई’ ) : जिन लोगो के नाम का पहला अक्षर आई होता है वो बड़े उधमी होते है । आलस्य तो इनके पास फटकता भी नहीं । वे अपने परिवार के सदस्य या अन्य काम करने वालो को भी आलस्य नहीं करने देते । आलस्य से इन्हें नफरत होती है । ये प्रत्येक विषय को पूरी तरह समझने का यत्न करते है किसी भी विषय पर गहन अध्ययन और मनन भी करते है । ये जो भी कहते है , पूर्ण ज्ञान और निष्ठा के साथ ही करते है । ऐसे व्यक्ति गंभीर प्रकृति के होते है और इनकी बात में दम होता है ।
‘जे ‘ अक्षर की अंक संख्या एक है



www.ketanastrologer.com J (‘जे’) : जिन व्यक्तियों के नाम अंग्रेजी के जे अक्षर से शुरू होता है वे विशाल ह्र्दय के होते है । उनके विचारों में संपूर्णता नहीं है परंतु उन्मुक्त होती है । ऐसे व्यक्ति ही स्वतंत्रता के रक्षक और पृष्टपोषक होते है । ऐसे व्यक्तियों का संसार के घटनाक्रम से घनिष्ठ संबंध तथा ये संसार की गतिविधियां परिचित रहते है । उनके साथ करते समय ऐसा मालूम होता है मानों ज्ञान गंगा में आनंदमयी डुबकिया लगा रहे है साधारण और छोटी बातों की तरफ इनका ध्यान नहीं जाता हर बात में मौलिकता इनका विशिष्ट गुण है ।

www.ketanastrologer.com



‘के’ अक्षर की अंक संख्या दो है ।
K (‘के’) :जिन लोगो के नाम अंग्रेजी के के अक्षर से आरम्भ होता है जीवन काफी संघर्षमय होता है ।शायद इतना संघर्ष दुसरो के जीवन में कम ही आता होगा । उन्हें अपने जीवन में काफी उतार चढ़ाव ही देखने पड़ते है । उनका जीवन प्राय ऐसे घटनाओं से भरा रहता है जिन्हे आकस्मिक कहा जाता है देखते ही देखते ऐसे व्यक्ति सर्वोच्च शिखर पर पहुँच जाते है इन उतार चढ़ाव इतने अनिश्चित होते है की कुछ भी कहा नहीं जा सकता ।संघर्ष और अनिश्चितता जीवन के कारण उनमे निराशा पनपने लगती है और वे हर बात को निराशा ढंग से देखने लगते है । संघर्ष और अनिश्चितता जीवन प्राय उन्हें धर्मभीरु भी बना देती है उन सहन करने की शक्ति का विकास होता है और उदारता के भाव उनके मन में घर करने लग जाते है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *