रुद्राक्ष के चमत्कारी जादुई प्रभाव जानकर आप जरूर पहनेंगे

रुद्राक्ष के चमत्कारी जादुई प्रभाव जानकर आप जरूर पहनेंगे

रुद्राक्ष को शिव का हिस्सा माना जाता है। इसमें अत्यधिक चुंबकत्व है, यही कारण है कि विभिन्न प्रकार के रुद्राक्ष के लाभों को समझना महत्वपूर्ण है। जबकि 3, 5, 6, और 7-मुखी रुद्राक्ष आसानी से मिल सकते हैं। रुद्राक्ष के प्रकारों की संख्या 14 तक जा सकती है रुद्रक्ष पहनने के सामान्य प्रभाव बहुत से लोग नहीं जानते कि रुद्रक्ष का पेयजल भी बहुत फायदेमंद हो सकता है। रुद्राक्ष के भौतिक और रासायनिक गुण बहुत जादुई हैं। उदाहरण के लिए, अगर किसी को एकाग्रता में समस्या हो और आसानी से नाराज हो जाए तो सबसे पहले रुद्रक्ष को अच्छी तरह धो लें। फिर रुद्राक्ष को रात में एक तांबा ग्लास में डाल दें और सुबह में केवल पानी पीएं। यह एक और शांत और धैर्य बढ़ाएगा। रुद्राक्ष में कई गुण हैं: शक्ति, स्मृति, धैर्य, एकाग्रता में सुधार, ऑक्सीजन प्रदान करता है, आदि। योगियों द्वारा पहना गया रुद्राक्ष उनकी एकाग्रता में सुधार करने के लिए पहना जाता है, अपनी इच्छाओं के नियंत्रण में रहता है, अपने दिमाग को स्थिर रखने के लिए, उन्हें और अधिक मेहनती बनाने के लिए और ईमानदार। इसलिए, एक रुद्राक्ष किसी भी व्यक्ति के लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है जो किसी के व्यक्तित्व के इन पहलुओं को बेहतर बनाना चाहता है। यह बच्चों / छात्रों के लिए भी बहुत फायदेमंद है क्योंकि एक अच्छे छात्र होने के लिए समान गुणों की आवश्यकता होती है। सावन महीनों के दौरान ऐसा करने पर रुद्राक्ष पहनने के लिए बहुत अच्छा माना जाता है। रुद्रक्ष म्यान जितना छोटा होगा, उतना ही प्रभावी माना जाएगा। रुद्रक्ष को धागे, चांदी या सोने में पहना जा सकता है। यह सुनिश्चित करने के लिए कि मोती जगह पर रहती है, धागे को रुद्राक्ष में चिपकाया जा सकता है। रुद्राक्ष को सक्रिय करने के लिए मंत्र आदर्श रूप से चतुर्दशी के दौरान, या प्रसाद के दौरान आद्र के नक्षत्र के दौरान किया जाना चाहिए। रुद्राक्ष को सक्रिय करने के लिए ये सबसे अच्छे समय हैं जिसके बाद सोमवार को सावन महीने के दौरान रुद्राक्ष पहना जा सकता है।


रुद्राक्ष के प्रकार – प्रभाव –
1-मुखी रुद्राक्ष को कैसे सक्रिय करें – इसे शिव के रूप में माना जाता है। यह एक दुर्लभ प्रकार का रुद्राक्ष है और खोजने में बहुत मुश्किल है, लेकिन यदि आपके पास शुद्ध मृदा है, तो यह आपको भौतिक और आध्यात्मिक जीवन में सभी लाभ दे सकता है। अक्षय तीथी पर पर्याप्त मंत्र बनाने के बाद इस रुद्राक्ष को पूजा के स्थान पर रखा जा सकता है। ऐसा करने से यह सुनिश्चित होगा कि हर समय धन के साथ संपन्न किया जाता है। इस रुद्राक्ष को इसे पहनने से पहले कम से कम 1008 बार आपके या आपके गुरु द्वारा “ओम हरम नमहा” मंत्र द्वारा सक्रिय होने की आवश्यकता है, इसके लिए आपको सकारात्मक परिणाम मिलते हैं।
2-मुखी रुद्राक्ष – इसे देवेश्वर कहा जाता है। यह किसी की इच्छाओं को पूरा करता है। उदाहरण के लिए यदि आप कुछ कामों के लिए प्रयास करते रहते हैं, लेकिन किसी भी तरह से काम पूरा नहीं होता है, तो 2-मुखी रुद्राक्ष पहने हुए अच्छे परिणाम ला सकते हैं। इस रुद्राक्ष के लिए मंत्र “ओम नमहा” है – 1008 बार किया जाना है। यह रुद्राक्ष उन लोगों के लिए भी अच्छा है जिनके पास वानी-दोष है, गर्भ धारण करने में असमर्थ हैं, या मस्तिष्क तेज नहीं है। इसे बुधवार को एक हरे धागे में पहना जाना चाहिए। मोतियों का आकार 1 या 2 होना चाहिए और कम से कम 11 मोती होनी चाहिए। या यदि मोती बड़ी हैं (मोती आकार 5 o6 हैं), तो 2 मोती भी पर्याप्त होंगे।
3-मुखी रुद्राक्ष उन लोगों के लिए बहुत उपयोगी है जो बहुत सारे मस्तिष्क के काम करते हैं – छात्र, योगी, शोधकर्ता – कोई भी काम जिसके लिए बहुत अधिक एकाग्रता और समर्पण की आवश्यकता होती है। यह पूरा ज्ञान देता है। “ओम क्लिम नामहा” वह मंत्र है जिसे इस रुद्राक्ष को सक्रिय करने के लिए 1008 बार जरूरी है।
4-मुखी रुद्राक्ष को “ओम हरम नमहा” मंत्र द्वारा सक्रिय किया जा सकता है और कम से कम 1008 मंत्रों के बाद सोमवार को सावन पर पहना जाता है। इसे ब्राह्मा-रोपी रुद्रक्ष कहा जाता है। इसमें सबसे अजीब व्यक्ति उठने और कुछ काम करने शुरू करने की शक्ति भी है।
5-मुखी रुद्राक्ष को “कलागिनी रुद्र रोप” कहा जाता है। यह किसी भी शाप से छुटकारा पाता है। यह बीमारियों से छुटकारा पाने में मदद करता है जो काम में देरी कर सकता है और किसी के काम में किसी अन्य बाधा को भी हटा देता है। कम से कम 1008 बार मंत्र “ओम हरम नमहा” करो और 51 मोती या अधिक पहनें। मोती चक्र चक्र में मोटे एक बड़े से छोटे हो सकते हैं। मोतियों को जितना छोटा माना जाता है उतना ही प्रभावी होता है।


छात्रों के लिए रुद्रक्ष फायदेमंद के प्रकार:
2-मुखी रुद्राक्ष को वह सभी इच्छाएं देने के लिए माना जाता है; यदि यह एक के अनुरूप है, तो यह किसी के भाग्य को मजबूत बना सकता है; यह किसी के दिमाग की शक्ति को बढ़ा सकता है जो एक और चेतावनी देता है और किसी की एकाग्रता में भी सुधार करता है। इन लाभों को दिखाने के लिए शुद्ध 2 सामना करना महत्वपूर्ण है। इसे सोमवार को किसी भी प्रकार के धागे में पहना जा सकता है। नहीं। मोतियों की सिर्फ 11 हो सकती है।
3-मुखी रुद्राक्ष छात्रों और योगियों के लिए बहुत अच्छा है। वे गर्दन के चारों ओर सिर्फ 11 मोती पहन सकते हैं। यह एकाग्रता, स्मृति, और आत्मविश्वास में सुधार करता है।


4-मुखी रुद्राक्ष – इस प्रकार के रुद्रक्ष के केवल 11 मोती छात्रों को उनकी आलस्य से छुटकारा पाने में मदद कर सकते हैं।
12-मुखी रुद्राक्ष उन छात्रों के लिए बहुत अच्छा है जो बहुत महत्वाकांक्षी हैं और कड़ी मेहनत करते हैं, लेकिन सही अवसर प्राप्त करने में सक्षम नहीं हैं। यहां तक ​​कि एक रुद्रक्ष मोती भी उनके लिए बहुत उपयोगी साबित हो सकती है और उन्हें अपने भाग्य में अत्यधिक सुधार दे सकती है।
अन्य रुद्राक्ष उपचार: धोने और सूखने के बाद दूध में 1-मुखी और 2-मुखी रुद्राक्ष रखोसूर्य कुछ घंटों के लिए ठीक से और फिर मस्तिष्क की ताकत को बेहतर बनाने के लिए दूध पीते हैं। ऊपरी भुजा के चारों ओर 4-मुखी रुद्राक्ष मोती पहने हुए मस्तिष्क की क्षमताओं को भी बढ़ाता है। एक पुरुष या महिला द्वारा पहने 14-मुखी रुद्राक्ष म्यान उन्हें बहुत स्वस्थ बच्चे बनने में मदद करेंगे और उनकी वैवाहिक समस्याओं में भी मदद करेंगे। यह मंगल-दोष के लोगों के लिए बहुत अच्छा है। पेट के चारों ओर एक 11-मुखी और काले रुद्राक्ष पहने हुए महिलाओं में अनचाहे गर्भपात की समस्या को हटा देता है जो लगातार इस समस्या से गुजरते हैं।

साप्ताहिक भविष्य 23 सितम्बर 2018 से 30 सितम्बर 2018 तक |

weekly horoscope
KETAN ASTROLOGER BLOG

साप्ताहिक भविष्य 23 सितम्बर 2018 से 30 सितम्बर 2018 तक |

aries weekly horoscope
मेष राशि : इस सप्ताह के प्रथम भाग से ही मेष राशि के जातक व जातिकाओं को सामाजिक जीवन में बढ़त हासिल होने के योग रहेंगे। अदालती मामलों में प्रयासों का बढि़या लाभ रहेगा। शत्रु पक्ष को मात देने की कला जाग्रति रहेगी। धन निवेश व विदेश संदर्भों में प्रयासों का बढि़या लाभ रहेगा। सेहत में नरमी के आसार रहेंगे। रोजी-रोटी के संदर्भों में दूरस्थ क्षेत्रों मे भ्रमण व प्रवास की स्थिति रहेगी। इस सप्ताह के मध्य भाग में कई संदर्भों में इच्छित परिणाम प्राप्त होने के आसार रहेंगे। स्वास्थ्य खिला हुआ व जोश से पूर्ण रहेगा। यदि कोई पीड़ाएं हैं, तो उनका अंत होना निश्चि रहेगा। नियमित दिनचर्या का बेहत लाभ रहेगा। वैवाहिक जीवन में खुशियों का संचार रहेगा। जीवन सहचरी के सहयोग से आज आधुनिक उपयोग की वस्तुओं की खरीद को मूर्तरूप दिये जाने के योग रहेंगे। आजीविका के संदर्भों में आज अनोखे अंदाज में बढ़ने का उत्साह रहेगा। इस सप्ताह के अंतिम भाग में कई प्रतिकूल परिणाम प्राप्त होने के आसार रहेगे। सेहत में नरमी और धन संदर्भों में व्यय की स्थिति तथा कार्य क्षेत्रों में भाग-दौड़ की स्थिति रहेगी।

taurus weekly horoscope


वृषभ राशि : इस सप्ताह के शुरूआती दौर से ही वृष राशि के जातक एवं जातिकाओं को कला, सत्रात्मक शिक्षा, उच्च शिक्षा, कला, संगीत, साहित्य, सौंदर्य, तकनीक, चिकित्सा, प्रबंधन, उत्पादन, विक्रय, सैन्य, सुरक्षा के संबंधित कार्यों में महती प्रगति के योग रहेंगे। प्रतियोगी क्षेत्रों में दिया गया साक्षात्कार सफलता के संकेत देने वाला रहेगा। अपनी वित्तीय स्थिति को उच्च करने के नायाब तरीके शोध लेने में कामयाब रहेंगे। पारिवारिक जीवन में उत्साह व खुशियों को बढ़ाने हेतु आधुनिक सुख के साधनों को जुटाने में तीव्रता से अमल होने के योग रहेंगे। इस सप्ताह के प्रथम भाग में वैवाहिक जीवन में मातृत्व सुखानुभूति की आहट रहेगी। यदि आप कार्मिक योग्यताओं को निखारना चाह रहें हैं, तो इस सप्ताह बढि़या अवसर रहेंगे। इस सप्ताह के मध्य भाग में देशान्तर में भ्रमण व प्रवास की स्थिति रहेगी। कोई जाना पहचाना व्यक्ति अचानक ही विवादों को हवा दे सकता है, उग्रता से दूरी अपेक्षित रहेगी। सेहत में मध्यम परिणामों की आवृत्ति रहेगी। किन्तु इस सप्ताह के अंतिम भाग में कई संदर्भों में महती प्रगति के योग रहेंगे। दीर्घकालिक योजनाओं के संचालन व सम्पादन में कोई महती सफलता रहेगी। सेहत में खिजी हुई व तरोताजी रहेगी।

मिथुन साप्ताहिक राशिफलमिथुन राशि : इस सप्ताह के शुरूआती दिनों से ही मिथुन राशि के जातक एंव जातिकाओं को रोजी-रोटी के संदर्भों में इच्छित मुकाम हासिल होने के योग रहेंगे। कार्य व व्यापार के संबंधित क्षेत्रों में कदम-कदम पर उन्नति रहेगी। संबंधित अधिकारियों द्वारा आपको पदोन्नत किये जाने के योग रहेंगे। आपकी देह को नियमित व्यायाम का पूरा फायदा रहेगा। आपकी रूचि पौष्टिक आहारों की तरफ रहेगी। जीवन संगिनी के साथ तालमेल का स्तर उच्च रहेगा। इस सप्ताह के प्रथम भाग में धन संदर्भों में चिंताएं होने के आसार रहेंगे। किन्तु मध्य भाग में वित्तीय सदंर्भों में अनेक सफलताएं प्राप्त होने के योग रहेंगे। पारिवारिक जीवन में खान-पान की गुणवत्ता में वृद्धि रहेगी। यदि आप संतान पक्ष के हाथ पीले करने को उत्सुक हैं, तो निश्चित ही इस सप्ताह के मध्य में सफलता रहेगी। उच्च शिक्षा, कला, साहित्य, संगीत, सौंदर्य, चिकित्सा, के संबंधित क्षेत्रों में महती प्रगति के योग रहेंगे। प्रेम संबंधों में साथी को कुछ समय देने का उत्साह रहेगा। इस सप्ताह के अंतिम भाग में संबंधित मामलों में छोटी-छोटी परेशानियां उभर सकती हैं। सावधानी अपेक्षित रहेगी।

कर्क साप्ताहिक राशिफल
कर्क राशि : कर्क राशि के जातक एवं जातिकाओं को इस सप्ताह के प्रथम भाग से ही निजी व सरकारी क्षेत्रों में वांछित कामयाबी हासिल होने के योग रहेंगे। राजकीय संदर्भो में किस्मत साथ रहेगी। आपके प्रयासों का उम्दा लाभ रहेगा। प्रतियोगी व क्रीड़ा संदर्भों में उच्च मुकाम हासिल होने के योग रहेंगे। सेहत में नरमी के आसार रहेंगे। कार्य व व्यावसाय के संबंधित क्षेत्रों में कहीं न कहीं कोई चूक होने के आसार रहेंगे। स्वजनों के मध्य तालमेल की स्थित रहेगी। इस सप्ताह के मध्य व अंतिम भाग में ग्रह गोचरीय स्थिति आपके पक्ष में रहेगी, जो अनेक समस्याओं को हल करने वाली रहेगी। गोचरीय प्रबलता के आपकी शारीरिक सबलता में वृद्धि के योग रहेंगे। यदि कोई पीड़ाएं हैं, तो उनका अंत होना निश्तिच रहेगा। कार्य व व्यापार के संबंधों में चल रहा तनाव समाप्त होने के संकेत देने वाला रहेगा। आपके सहयोगी कर्मियों द्वारा सहयोग प्राप्त रहेगा। अधिकारियों द्वारा आपकों पदोन्नति दी सकती हैं। इस सप्ताह के अंतिम भाग में प्रेम संबंधों में मधुरता व चाहत रहेगी। साथी के अनुकूल वस्त्राभूषणों की खरीद को मूर्तरूप दिए जाने के योग रहेंगे। तकनीक, चिकित्सा, सौंदर्य, प्रबंधन, शिक्षा, अध्यापन, फिल्म, उत्पादन, विक्रय के संबंधित क्षेत्रों में आबाध उन्नति की ओर अग्रसर रहने के योग रहेगे। आपकी वित्तीय स्थिति और सुदृढ़ रहेगी। चल रहा धनाभाव समाप्त होने के संकेत देगा।


सिंह साप्ताहिक राशिफलसिंह राशि: सिंह राशि के जातक और जातिकाओं को इस सप्ताह के प्रथम चरण से ही भू-जायदाद के संदर्भों में महती प्रगति हासिल होने के योग रहेंगे। कहीं न कहीं से धन लाभ प्राप्त होने के आसार रहेंगे। पारिवारिक जीवन को संभालने व संवारने का उत्साह रहेगा। धन निवेश व विदेश संदर्भों में प्रयासों को महती सफलता प्राप्त होने के योग रहेंगे। अदालती मामलों में शत्रु पक्ष को मात देने की कला रहेगी। सेहत संदर्भों में नरमी के आसार रहेगे। धन मामलों में अचानक ही व्यय भार बढ़ सकता है। प्रेम संबंधों में चिंताएं उभर सकती हैं, कठोर शब्दों के प्रयोग से बचें। इस सप्ताह के मध्य भाग में कार्मिक व धार्मिक क्षेत्रों में आपका भाग्य प्रबल रहेगा। निजी व सरकारी क्षेत्रों में सेवाएं देने और वांछित उन्नति प्राप्त करने में महती प्रगति रहेगी। आप धर्म लाभ के कार्य व यात्राओं को अंजाम तक पहुंचाने में कामयाब रहेगे। इस सप्ताह के अंतिम भाग में सेहत में सबलता का एहसास रहेगा। चल रही पूर्व की पीड़ाओं को समाप्त करने में महती प्रगति के योग रहेंगे। तन में तंदुरूस्ती का एहसास रहेगा। पत्नी व बच्चों के मध्य सुख-शांति के पल रहेगे। मतभेद व बातों ही बातों में गुस्से की स्थिति समाप्त रहेगी। बशर्ते धैर्य व सौम्यता को कम न होने दें।

कन्या साप्ताहिक राशिफल

कन्या राशि: कन्या राशि के जातक व जातिकाओं को इस सप्ताह के प्रथम चरण से ही कई संदर्भों में शुभ व अनुकूल परिणाम प्राप्त होने के आसार रहेंगे। आपकी शारीरिक क्षमतओं में महती वृद्धि के योग रहेंगे। चल रही पीड़ाओं को समाप्त करने में महती प्रगति के योग रहेंगे। आपकी सधी हुई दिनचर्या का बेहतर लाभ रहेगा। कार्य व व्यापार के संबंधित क्षेत्रों में मान व बड़ाई हासिल होने के योग रहेगे। यदि आप साझेदारी व सामूहिक व्यापारिक संस्थाओं के संचालक व भागीदार हैं, तो इस सप्ताह के प्रथम भाग से ही महती प्रगति के योग रहेगे। प्रयासों को तीव्रता से जारी रखने में कोताही से बचना रहेगा। वैवाहिक जीवन में खुशियों के पल रहेगे। कोई नन्हीं किलकारी आपके घर आंगन को गुलजार करेगी। इस सप्ताह के प्रथम भाग से ही आपकों धन निवेश व विदेश संदर्भों में इच्छित सफलता प्राप्त होने के योग रहेंगे। कार्य क्षेत्रों में दिन प्रति-दिन उत्साह प्राप्त रहेगा। इस सप्ताह के मध्य भाग में अचल सम्पत्ति को संवारने व निर्मित करने और अधिकार प्राप्त करने में महती प्रगति के योग रहेंगे। शत्रु पक्ष को उनकी ही भाषा में माकूल जवाब देने की ताकत रहेगी। इस सप्ताह आपका भाग्य और प्रबल रहेगा। यदि आप राजनीति व सामाजिक जीवन से सरोकार रखते हैं, तो महती कामयाबी रहेगी। मनोरंजन व स्वाष्दिट व्यंजनों का भरपूर लाभ रहेगा।


तुला साप्ताहिक राशिफल
तुला राशि: इस सप्ताह के शुरूआती दौर से ही तुला राशि के जातक व जातिकाओं को कार्मिक व शैक्षिक उन्नति हेतु देश-देशान्तर में भ्रमण व प्रवास हेतु गमन करना पड़ सकता है। धन निवेश व विदेश संदर्भों में महती प्रगति के योग रहेंगे। शत्रु पक्ष को समुचित जवाब देने की ताकत रहेगी। अदालती मामलों में प्रयासों का बढिया लाभ रहेगा। सेहत संदर्भों में पीड़ाएं उभर सकती हैं, खान-पान का क्रम अपेक्षित रहेगा। इस सप्ताह के मध्य भाग में शारीरिक सबलता मे वृद्धि के योग रहेंगे। पत्नी व बच्चों के मध्य हंसी खुशी के पल रहेगे। कार्य व व्यापार के संबंधित क्षेत्रों में महती प्रगति के योग रहेंगे। कहीं न कहीं से यश का लाभ रहेगा। प्रेम संबंधों में मधुरता की स्थिति अधिक मज़बूत रहेगी। साथी के साथ वांछित स्थानों का भ्रमण हो सकता है। आपकी कार्मिक शैली की सराहना उच्च स्तर पर रहेगी। इस सप्ताह के अंतिम भाग में आपकों भू-जायदाद के संदर्भों में लाभ रहेगा। भवन, निर्माण, उसका सौंदर्यरीकरण व स्वामित्व प्राप्त होने के योग रहेंगे। विदेश व अदालती मामलों में किस्मत साथ रहेगी। पारिवारिक जीवन में खुशियों के पल रहेंगे। सेहत में नरमी व धन संदर्भों में अचानक ही व्यय भार बढ़ सकता है।

वृश्चिक साप्ताहिक राशिफल
वृश्चिक राशि: वृश्चिक राशि के जातक और जातिकाओं को इस सप्ताह के प्रथम चरण से ही वित्तीय संदर्भों में महती प्रगति प्राप्त होने के योग रहेंगे। कार्य व व्यापार के संदर्भों में चल रहा धनाभाव समाप्त होने के संकेत देने वाला रहेगा। पारिवारिक जीवन की खुशियों में वृद्धि के योग रहेंगे। घर-गृहस्थी को सजाने व संवारने के अनेक अवसर रहेगे। आपको सद्गृहस्थी के रूप पहचाना जा सकता है। इस सप्ताह के प्रथम भाग से ही आपको शैक्षिक, तकनीक, चिकित्सा, सौंदर्य, प्रबंधन, अध्यापन, फिल्म, वाणिज्य, के संदर्भो में इच्छित मुकाम हासिल होने के योग रहेंगे। बशर्ते प्रयासों को पूरे आत्मबल से जारी रखें। कहीं न कहीं से धन लाभ के योग रहेंगे। प्रेम संबंधों में अनुकूलता की स्थिति रहेगी। यदि कार्मिक व व्यापारिक क्षेत्रों में विवाद हैं, तो उन्हें समाप्त करने में महती प्रगति के योग रहेंगे। इस सप्ताह के मध्य भाग में धन निवेश व विदेश संदर्भों में महती प्रगति योग रहेगे। सेहत में पीड़ाएं उभर सकती हैं, तामसिक आहारों के सेवन से दूरी अपेक्षित रहेगी। शत्रु पक्ष को माकूल जवाब देने की ताकत रहेगी। धन संदर्भों में अचानक ही व्यय भार बढ़ सकता है। इस सप्ताह के अंत में शुभ परिणाम प्राप्त रहेगे।


धनु साप्ताहिक राशिफल
धनु राशि: धनु राशि के जातक एवं जातिकाओं को इस सप्ताह के प्रथम चरण से ही कार्य व व्यावसाय के संबंधों में महती प्रगति प्राप्त होने के योग रहेंगे। फिल्म, कला, साहित्य, प्रबंधन, अध्यापन, सौंदर्य, उत्पादन, क्रय-विक्रय के मामलों में इच्छित मुकाम हासिल होने के योग रहेगे। कहीं न कहीं से कोई शुभ समाचार प्राप्त रहेगा। कार्मिक क्षेत्रों में पदोन्नति के योग रहेंगे। किसी नामी संस्था के मध्य दीर्घकालिक सेवा समझौतों पर हस्ताक्षर होने के योग रहेगे। इस सप्ताह के मध्य भाग में आपकी वित्तीय स्थिति अधिक अनुकूल व प्रभावी परिणाम देने वाली रहेगी। गृहस्थ जीवन को आकर्षक एंव प्रभावशाली सुविधाओं से लैंस करने में उत्साह रहेगा। इस सप्ताह के मध्य भाग में आपको संबंधित कार्मिक व शैक्षिक उन्नति प्राप्त होने के योग रहेंगे। निजी संबंधों में अनुकूलता रहेगी। साथी के अनुकूल मधुर वार्ताओं का क्रम रहेगा। इस सप्ताह के मध्य अंतिम भाग में सेहत में नरमी के आसार रहेगे। धन निवेश व विदेश संदर्भों में किस्मत साथ देगी।


मकर राशि : इस सप्ताह के शुरूआती दौर से ही मकर राशि के जातक व जातिकाओं को निजी व सरकारी क्षेत्रों में मान-सम्मान प्राप्त होने के योग रहेंगे। यदि आप रोजगार की तलाश में हैं, तो प्रयासों को पूरे विश्वास के साथ तीव्र करे, निश्चित ही सफलता प्राप्त होने के योग रहेगे। आपकी रूचि देवाराधन व पूजन की तरफ रहेगी। किसी संबंधित व्यक्ति के साथ धार्मिक स्थलों की यात्राएं होने के योग रहेंगे। इस सप्ताह के मध्य भाग में आपकों कार्मिक उन्नति प्राप्त होने के योग रहेंगे। चिकित्सा, कानून, तकनीक, प्रबंधन, साहित्य, फिल्म के संबंधित क्षेत्रों में महती उन्नति के योग रहेंगे। संबंधित सेवा क्षेत्रों में उम्दा कार्य शैली का पुरूस्कार दिया जा सकता है। सेहत में जोश व ताकत का एहसास रहेगा। यदि कोई पूर्व की पीड़ाएं हैं, तो उनका अंत होना निश्चित रहेगा। इस सप्ताह के अंत में आपकी वित्तीय स्थिति उच्चता के संकेत देने वाली रहेगी। कहीं न कहीं से धन लाभ प्राप्त होने के आसार रहेंगे। प्रेम संबंधों में मधुरता व निकटता की स्थिति रहेगी। बशर्ते कठोर शब्दों के प्रयोग से बचें।

कुम्भ साप्ताहिक राशिफल
कुम्भ राशि :इस सप्ताह कुम्भ राशि के जातक व जातिकाओं को धन निवेश व विदेश संदर्भों में महती प्रगति प्राप्त होने के योग रहेंगे। अदालती मामलों में कोई पुख्ता साक्ष्य जुटाने में कामयाबी रहेगी। विरोधी पक्ष को मात देने की ताकत में इज़ाफा रहेगा। धन संदर्भों में अधिक व्यय की स्थिति रहेगी। सेहत में नरमी के आसार रहेंगे। इस सप्ताह के मध्य भाग में आपकी किस्मत अधिक बलवती रहेगी। निजी व सरकारी क्षेत्रों में दिया गया साक्षात्कार सफलता के संकेत देने वाला रहेगा। राजकीय कार्यों में आपकी भागीदारी बढ़ सकती है। सामाजिक व राजनैतिक जीवन में उत्साह प्राप्त रहेगा। लोगों के मध्य अपनी प्रभावात्मकता को स्थापित करने में महती प्रगति के योग रहेंगे। आपकी छवि एक नेक इंसान के रूप में स्थापित रहेगी। इस सप्ताह के अंतिम भाग में अधीनस्थ कर्मियों को प्रोत्साहित करने और ग्राहको लुभाने हेतु आकर्षक योजनाओं के क्रियान्वयन पर विचार होने के योग रहेंगे। सेहत में तंदुरूस्ती का एहसास रहेगा। प्रेम संबंधों में अपनेपन का एहसास रहेगा। किन्तु भ्रात पक्ष के मध्य अचानक ही तनाव उत्पन्न हो सकते हैं।


मीन साप्ताहिक राशिफल
मीन राशि : मीन राशि के जातक एवं जातिकाओं को इस सप्ताह के प्रथम भाग से ही अनेक मांगलिक व शुभ अवसर प्राप्त रहेगे। सेहत में जोश व ताकत का एहसास रहेगा। यदि कोई पीड़ाएं हैं, तो उनका अंत होना निश्चित हैं। आपकी नियमित दिनचर्या का बेहतर लाभ रहेगा। कार्य व व्यावसाय के मामलों में उत्साह जनक सफलता प्राप्त होने के आसार रहेगे। कहीं न कहीं से मान-सम्मान का लाभ रहेगा। जीवन सहचरी के मध्य मधुरता व निकटता रहेगी। पूर्व के मतभेदों को समाप्त करने में महती प्रगति के योग रहेंगे। किसी खास मामले में संबंधित पक्ष के मध्य सहमति बनने के योग रहेगे। इस सप्ताह के मध्य भाग में संबंधित मामलों में प्रतिकूल परिणाम प्राप्त होने के आसार रहेंगे। सेहत में नरमी की स्थिति उभर सकती है। धन संबंधों में व्यय भार की अधिकता और शत्रु पक्ष से परेशानी जैसी समस्याएं उभर सकती हैं। किन्तु इस सप्ताह के अंत तक पुनः आपको सकारात्मक ऊर्जा प्राप्त होने के योग रहेंगे। संबंधित मामलों में शुभ स्थिति रहेगी।

ब्लू नीलमणि / नीलम रतन पहनने के लाभ और नुकसान ।

ब्लू नीलमणि / नीलम रतन पहनने के लाभ और नुकसान 

neelam gemstone

बहुत से लोग उलझन में हैं या नीले नीलमणि पहनने से भी डरते हैं। यदि आपकी शनि / शनि आपके मुख्या ग्रहो को किसी तरह से प्रभावित करती है, तो नीली नीलम रतन पहनना आपके लिए बहुत फायदेमंद होगा। यह रत्न किसी के मन को शांत, तेज बनाता है, और इसलिए चीजों को उचित तरीके से करने में मदद करता है।




नीली नीलमणि कौन पहन सकता है?
अगर आपको जांच के काम की ज़रूरत है तो यह रत्न आपको बहुत मदद करता है, आपका दिमाग सही निर्णय लेने या लेने में असमर्थ है। यह चीजों को करने और सही तरीके से करने में सक्षम बनाता है। यदि आपको लगता है कि आपका दिमाग पर्याप्त तेज़ नहीं है – आप लाइनों के बीच नहीं पढ़ सकते हैं, तो आपको लगता है कि दूसरों को आप पर हावी है क्योंकि आप सीधे सोचने या लोगों को सही समझने में सक्षम नहीं हैं, तो इससे आपको दृष्टि विकसित करने में मदद मिलती है। यदि यह आपके अनुरूप नहीं है, तो यह आपके हाथों और पैरों में बहुत दर्द पैदा करता है, जिससे आप गलत निर्णय लेते हैं और इसलिए, आप सभी प्रकार के लोगों से लड़ना शुरू करते हैं और आप अपने पैसे का दुरुपयोग करना शुरू करते हैं – इससे आपको बहुत गरीब बनने का कारण बन सकता है आखिरकार आपके निर्णय लेने की क्षमता पर बुरे प्रभाव के कारण। यदि आपके जन्म-पत्र में शनि कमजोर है, तो नीली नीलमणि पहनने से आपके लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है जब तक कि शनि मार्गी नहीं है, इस मामले में यह बड़ी समस्याएं पैदा कर सकता है। साढ़े-साती के दौरान नीले नीलमणि पहनना एक अच्छा विचार है क्योंकि यह वास्तव में इस बुरे अवधि को आपके लिए बहुत अच्छी अवधि में बदल सकता है। यदि शनि आपके दूसरे, 9वीं, या 11 वें घर का स्वामी है या इन घरों में से एक में बैठा है, तो यह आपको अच्छे निर्णय लेगा – खासकर शेयर बाजार में जो धन लाएगा। यदि शनि दूसरे और तीसरे घर का स्वामी है और आप नीले नीलमणि पहनते हैं, तो यह पत्थर आपको एक बहुत अच्छा गायक भी बना सकता है।




नीली नीलमणि पहनना नहीं चाहिए?
यदि आपकी शनि आपके जन्म-पत्र के तीसरे या 8 वें घर में है, तो इस पत्थर को न पहनें। यदि आप अपने जन्म-पत्र में देखने में असमर्थ हैं, तो देखें कि निम्नलिखित आप पर लागू होते हैं: आपका वाहन अक्सर क्षतिग्रस्त हो जाता है, आप आसानी से परेशान होते हैं, आप देर रात तक काम करते हैं और सुबह उठने में मुश्किल होती है, सूर्य में चलते समय आपका सिर दर्द होता है; या यदि आपको निचले हिस्से में पेट या दर्द से समस्या है, तो आपको नीली नीलमणि नहीं पहननी चाहिए।



दैनिक जीवन में मिलने वाले संकेत – भाग्यशाली या दुर्भाग्यपूर्ण?

bad omens

दैनिक जीवन में मिलने वाले संकेत – भाग्यशाली या दुर्भाग्यपूर्ण?

कभी-कभी, चीजें होती हैं और हम सोचते हैं कि क्या वे आने वाली चीज़ों के किसी प्रकार का संकेत थे। अच्छे संकेत अच्छे काम के लिए मानसिक रूप से तैयार होने के लिए हमें कहने के प्रकृति के तरीके हैं – अधिक कठिन काम करना शुरू करने के लिए ताकि हम आने वाली भलाई को बढ़ा सकें। खराब संकेत हमें यह बताने का एक तरीका है कि कुछ बुरा हो सकता है और हमें बुरे समय के लिए सतर्क रहना चाहिए। अगर हम उपचार करते हैं या जागरूक होते हैं, तो बुरा समय नहीं आता है या बुरा समय उतना बुरा नहीं है जितना कि यह माना जाता था। डर से छुटकारा पाएं, सचमुच ईमानदार रहें, और अधिक आध्यात्मिक बनें – आपको निश्चित रूप से लाभ होगा। ये संकेत स्वाभाविक रूप से होना चाहिए और ऐसा नहीं किया जाना चाहिए, केवल तभी संकेतों को सच के रूप में व्याख्या किया जा सकता है। यहां हम उपचार के साथ कुछ सूचीबद्ध हैं। अगर आप हमें अंग्रेजी समकक्ष प्रदान करने में सक्षम हैं तो कृपया हमें बताएं। यदि आप बस सुबह उठते हैं और कोई आपको कुछ मांगने के लिए आता है (उदाहरण: कोई आपके दरवाजे पर भीख मांगता है), तो यह आपके लिए वापस आने वाले पैसे का संकेत है। यदि एक स्पैरो आपके ऊपर निकलता है, तो इसका मतलब है कि आपकी गरीबी जल्द खत्म हो जाएगी। जितना अधिक चिमनी आपके ऊपर बेहतर हो जाएंगे। यह घर में किए जा रहे नए काम या आपके लिए नए कपड़े भी दिखाए जा सकते हैं।




यदि देवताओं / देवियों की तस्वीरें नष्ट हो रही हैं, तो यह एक अच्छा संकेत नहीं है। सुनिश्चित करें कि आप किसी भी समस्या से बचने के लिए जितनी जल्दी हो सके नई प्रतिमाये लाएं। घर में हर किसी को महामृत्यंजय मंत्र जाप भी करना चाहिए – 108 बार। यदि आप कहीं जा रहे हैं, और आप अचानक दूध देखते हैं – कोई इसे ले रहा है या आप देखते हैं कि कुछ स्पिल्ट दूध शुभ है। हालांकि, दूध आपके या आपके घर में नहीं छोड़ा जाना चाहिए। सुनिश्चित करें कि आप छोड़ने से पहले दूध साफ करें। यदि आप अपनी चाबियाँ खोना जारी रखते हैं, तो यह एक अच्छा संकेत नहीं है। अष्टमी पर अर्गला स्त्रोत पाठ करो। इसके अतिरिक्त, यदि आप सांस लेने में श्वास महसूस करते हैं और आपके श्वास में अवरोध महसूस करते हैं, तो 11 दिनों के लिए, अपने इष्ट की पूजा (अपने भाग्यशाली ग्रह / भगवान का मंत्र) करें और अपनी सांस की समस्या के लिए डॉक्टर से मिलें। अनुष्ठान शाम, सुबह या रात में किया जा सकता है – बस सत्त्विक भोजन खाने और ब्रह्मचर्य का अभ्यास करने के लिए सावधान रहें। यदि आपके कपड़े किसी चीज में पकड़े जाते हैं जैसे आप कहीं बाहर जा रहे हैं या आपका पैर कुछ ऑब्जेक्ट हिट करता है, तो लगभग 5-10 सेकेंड के लिए रुकें, किसी से बात करें, कुछ पानी पीएं और फिर जाएं। यदि घर में बहुत सारे मकड़ी हैं, तो यह एक अच्छा संकेत नहीं है। अपने घर को साफ करें और उन मकड़ियों को बाहर निकालें। सुबह और शाम को “गूगल” जलाएं। घर में लड़ो / झगड़ा मत करो या किसी को ऋण दें।




यदि आप कहीं अपना पैसा निवेश करना चाहते हैं, तो पहले मछली का ख्याल रखें और फिर अन्यथा निवेश करें, निवेश सफल नहीं होगा। कभी-कभी, हम एक अंगूठी खो देते हैं जिसे हमने विशेष रूप से किसी विशेष ग्रह के लिए बनाया था। सबसे पहले, उस अंगूठी को खोजने का प्रयास करें। यदि आपको यह नहीं मिलता है, तो जितनी जल्दी हो सके एक और प्राप्त करें। 11 दिनों के लिए उस ग्रह का मंत्र करें – हर रोज 5 x 108 करें। उस काम के बारे में सावधान रहें जिसके लिए आपने उस अंगूठी पहनी थी क्योंकि वहां कुछ समस्या हो सकती है। अगर अंगूठी टूट जाती है, तो यह इसे खोने से भी बदतर है। इस मामले में, या तो 11 दिनों के लिए रुद्राक्ष मोती के साथ महमित्र्यंजय जप करें या किसी भी नुकसान को रोकने के लिए 11 बार के लिए रुद्र-अभिषेक 11 बार या सुन्दरखंड-पाथ करें। यदि आप अपना आभूषण खो देते हैं, तो यह एक अच्छा संकेत नहीं है। विशेष रूप से आभूषण का एक टुकड़ा, जिसे कड़ी कमाई की नकदी के साथ खरीदा गया था। इसका मतलब है कि पैसे, स्वास्थ्य या सामाजिक स्थिति (प्रतिष्ठा) से संबंधित घर में कुछ गंभीर समस्याएं हो सकती हैं। अगर किसी महिला द्वारा आभूषण खो गया होता है तो यह अधिक बढ़ाया जाता है, अगर कोई व्यक्ति इसे खो देता है तो यह इतना बुरा नहीं होता है। यह घर और बुजुर्गों के आदमी को भी समस्या का कारण बनता है। इस (पुरुष और महिला दोनों) को दूर करने के लिए, केले के पेड़ लगाओ। गुरुवार को, गरीब लोगों को चावल और हल्दी दें। 2 किलोग्राम आलू लें, उन्हें हल्दी से पीला बनाओ और उन्हें गुरुवार को गाय पर खिलाएं। मंदिर में 200 ग्राम गाय की पीली घी दान करें। यह आभूषण के आकार के बावजूद है।




जब पौधे घर में सूखना शुरू करते हैं। यह झगड़े, जगह में परिवर्तन, या कुछ नुकसान दिखाता है। जब यह एक समय के दौरान होता है जब आप कुछ शुभ काम की योजना बना रहे हैं, तो आपको और अधिक उपाय करने की आवश्यकता है। उपचार के लिए: शनिवार को एक पेपल पेड़ और एक बार्गाड पेड़ बोएं। एक शनिवार को बहने वाले पानी में एक नारियल फेंको, इसे सिर्फ पानी को छूएं – कुछ फीट के लिए जाएं और फिर आप इसे नदी के किनारे छोड़ सकते हैं। जब तक वे सूखना बंद नहीं करते हैं तब तक आप अपने घर में जितने तुलसी और आक पौधों को लगा सकते हैं। अर्गला स्त्रोत पाठ शुरू करें या “एंग हिंग क्लिंग चामुंडयये विचचे” मंत्र जापे / या यग (21 दिनों के लिए) करें। अपने जीवन में आने वाले बड़े बदलाव को स्वीकार करें अन्यथा आपको संघर्षों से गुजरना पड़ सकता है। यदि आप अचानक भूखे महसूस नहीं करते हैं जैसे आप करते थे या पेट में बहुत अधिक अम्लता होती है जो आपको खाने नहीं देती है या आप इतनी व्यस्त हैं कि आप नहीं खा सकते हैं, तो यह एक बुरा संकेत है। यह परिवार में झगड़े दिखा सकता है, बसों में धीमा, परिवर्तन जो तनाव से भरा होगा,या बीमारी। उपचार: अपने घर, अपने गुरु और एक गाय में पूजा की अपनी जगह का ख्याल रखना। अहंकारी मत बनो। हल्का भोजन खाओ। अपने बुजुर्गों के स्वास्थ्य पर ध्यान दें और अपनी महंगी वस्तुओं से सावधान रहें। अपने भोजन में कम हल्दी का प्रयोग करें। सूर्य नियामक को पानी देना शुरू करें। अपने स्वास्थ्य के बारे में सावधान रहें। अपनी गर्दन के चारों ओर गुरुवार को नारंगी रंगीन धागे में अनार की जड़ पहनें। केला मत खाओ, लेकिन गुरुवार को उन्हें दान करें। कभी-कभी, हमारे गालों को हमारे दांतों से काटना शुरू हो जाता है। जब भी यह बहुत होता है (हर 10 दिन या उससे भी ज्यादा), जब भी आप कर सकते हैं और गरीबों को भोजन दान कर सकते हैं, तो 3 दिन के लिए ध्यान करें। यदि यह आपके मुंह में सूजन या आपके दांतों की संरचना के कारण होता है, तो यह ओमेन नहीं है। अगर मेहमान आपके घर को गुस्सा मूड में छोड़ देते हैं, तो यह एक बुरा संकेत है। यदि आप उन्हें फिर से आना चाहते हैं तो मेहमानों को छोड़ने के तुरंत बाद आपको सफाई शुरू नहीं करनी चाहिए। अपने मेहमानों की कमियों के बारे में बात न करें या छोड़ने के तुरंत बाद अपने व्यंजन धोएं – कम से कम 11 मिनट प्रतीक्षा करें और फिर आप व्यंजन कर सकते हैं।




यदि आपके द्वारा शुरू किया गया सभी काम एक दूसरे के बाद असफल रहता है, उसी दिन गुरु / विशेषज्ञ से सलाह लेने के बाद गुरुवार को नया शुरू करना शुरू करें। आपका पूरा जीवन, अमावस्या पर, आते से पिंड बनाते हैं और उन्हें उसी दिन पानी में बहते हैं। मांसाहारी भोजन मत खाओ। दूसरों के बीमार बात मत करो या बड़ी बात मत करो। यदि समस्या बड़ी है, तो पानी में 5 मछली मुक्त करें। और एक बार शनिवार को, पानी में 5 मछली मुक्त करें। यदि आप संपत्ति हानि / संपत्ति से संबंधित समस्या का सामना करते हैं, तो चांदी का एक वर्ग टुकड़ा (किसी भी आकार) लें और इसे सोमवार को अपनी जेब में रखें। इसे अपनी मां या मातृभाषा से लेना सबसे अच्छा है। आपको कुछ प्रयास करना होगा, लेकिन धीरे-धीरे आपकी समस्याएं दूर होनी चाहिए। यदि आप सभी प्रकार की बीमारियों को एक दूसरे के बाद प्राप्त करते रहते हैं, तो एक दिन की दवा को गंदे पानी में फेंक दें और फिर दवा को दोबारा खरीद लें और इसे फिर से शुरू करना शुरू करें। अगर पुनरारंभ की तारीख पूर्णमासी, शुक्लपक्ष – पंचमी, षष्टी, सप्तमी, अष्टमी, या त्रियोदाशी होती है, तो दवा परिणाम भी तेज दिखाई देगी। ऐसे लोगों को भी एक दिन अपने घर की सफाई करना चाहिए। अपने टूटे हुए कपड़े, बेडशीट, जूते, आदि बदलेंइसके बाद या स्वयं के द्वारा रुद्र-अभिषेक को प्राप्त करें। नाखून: यदि आप पीले हो रहे हैं। यह एक बुरा संकेत है। यह दिखाता है कि आपके साथी, दोस्तों और परिवार आपसे दूर जा रहे हैं। यह आपके दिमाग (फोकस, स्मृति, भय, चिंताजनक व्यवहार) के अपने प्रतिष्ठा या कमजोरी को भी नुकसान पहुंचा सकता है। ध्यान से और किसी भी प्रकार के विवाद से दूर रहकर आपको खुद को बहुत तनाव से रोकने की जरूरत है। इसके अलावा, “आदित्य हर्याया स्ट्रोट्रा पाथ” पढ़कर सूर्य को जीतें। अपने पिता की देखभाल करें, उसके साथ नाराज न करें, नियमित रूप से उससे आशीर्वाद लें। यदि आपके नाखून बचपन से पीले रंग के होते हैं, तो बादाम का तेल लेना शुरू करें (शायद दूध के साथ, बालों पर रखो, नाखूनों पर डाल दें) और पूरे जीवन में सूर्य की पूजा करें। यदि आपके नाखून सफेद हो रहे हैं, तो यह शरीर में ऊर्जा बल की कमी दिखाता है। यह भी दिखाता है कि आप जिस काम को पूरा करने की उम्मीद कर रहे थे वह पूरा नहीं हो सकता है। आपको हड्डियों और रक्त की कमजोरी के बारे में सावधान रहना होगा। “शुक्ला प्रकाश” के समय एक दिए गए शनिवार को नमक खाने से रोकें और उसी दिन गरीब लड़कियों (मादा बच्चों) को नमकीन वस्तुएं / भोजन दान करें। घर में एक नारियल कलश स्थापित करें। जिन लोगों की पैर की नाखूनों को कुचलने लगते हैं या अपनी सुंदरता खो देते हैं, तो बहुत मेहनत के बाद भाग्यशाली हो जाते हैं। उनके रिश्ते खट्टे भी हो सकते हैं और वे अपने प्रतिष्ठा को कुछ नुकसान पहुंचाएंगे। ऐसे लोग पूरी तरह से अपनी सारी संपत्ति खत्म कर सकते हैं। गलत निर्णय लेने के बाद भी वे बहुत परेशानी में पड़ सकते हैं। “पितृ दोष” के लिए उपचार करें। अहंकार से चलो और गायों का ख्याल रखना। कभी-कभी, नाखूनों में “चंद्रमा” गायब होने लगते हैं। इसके लिए, अपने “इष्ट” की पूजा करें और मस्तिष्क शक्ति को बढ़ाने के लिए बादाम, आमला और अन्य वस्तुओं को खाएं। ऐसे लोगों को अपने शरीर में अधिक ऑक्सीजन लेने के लिए गहराई से सांस लेने की जरूरत है। शांत लोगों की कंपनी में रहकर शांत रहो।




यदि आपके नाखूनों की गुलाबी दूर जा रही है और इसके बजाय आपके नाखून बैंगनी (बैंगन की तरह) बदल रहे हैं, तो यह आपके राज-योग में रक्त और त्वचा से संबंधित समस्याओं और बाधाओं को दिखाता है। यह इसके कारण संबंधों को तोड़ने और बदनाम करने से भी पता चलता है। उपाय के लिए, 11 मंगलवार के लिए “बरगद पेड़” की जड़ में मीठे दूध (एक चम्मच के बारे में) प्रदान करें। अपने दिमाग को शांत रखें और कम अंतराल में पानी पीएं। जब आपके नाखूनों को कुचलने लगते हैं, तो अपने आइशेट से प्रार्थना करें और अपनी संपत्ति को अच्छी तरह से सुरक्षित रखें। कुछ लोगों की नाखून थोड़ी देर के बाद झुकने लगती हैं, इससे वैवाहिक जीवन में समस्याएं आती हैं। यदि आपके नाखून कमजोर और भंगुर हो रहे हैं, तो अपने मानसिक स्वास्थ्य का ख्याल रखें। यह बुरा भाग्य और बुरा स्वास्थ्य आ रहा है दिखाता है। ऐसे लोगों को “शामी” जड़ लेनी चाहिए, इसे नीले धागे में बांधें, और शनिवार को अपनी गर्दन के चारों ओर पहनें। ऐसे लोगों को बहुत भारी / समृद्ध भोजन लेना बंद करना चाहिए। नीले और काले कपड़े पहनने को भी रोकें / कम करें। यदि आप अपने हाथों की नाखूनों पर कुछ धब्बे देख रहे हैं, तो यह आपको दिखाता है।वैवाहिक जीवन के आनंद और जीवन में संघर्ष में कमी आ रही है। उपाय के लिए, एक अनार की जड़ में अनार की जड़ बांधें और गुरुवार को इसे सुनिश्चित करने के लिए अपनी गर्दन के चारों ओर पहनें। एक महिला के लिए, आपको केवल एक समूह में शादी करनी चाहिए – “कुंभ विवाह”। एक आदमी के लिए, उत्तरी दिशा का सामना करें, घी की मोमबत्ती को प्रकाश दें, और वर्षों के लिए गणेश मंत्र “ओम गण गणपतय नमहा” करें (या गणेश चालीस करते हैं); हर बुधवार को गरीब बच्चों को लड्डू / मिठाई दान करें।

साप्ताहिक भविष्य 16 सितम्बर 2018 से 22 सितम्बर 2018 तक |

weekly horoscope
KETAN ASTROLOGER BLOG

साप्ताहिक भविष्य 16 सितम्बर 2018 से 22 सितम्बर 2018 तक |

aries weekly horoscope

मेष राशि : इस सप्ताह के प्रारम्भिक भाग से ही मेष राशि के जातक और जातिकाओं को कार्य व व्यावसाय के संबंधित क्षेत्रों में क्षेत्रीय यात्राएं और भाग-दौड़ की स्थिति रहेगी। ननिहाल पक्ष के मध्य इस सप्ताह तालमेल बिठाने में महती प्रगति के योग रहेंगे। सेहत संदर्भो में उतार-चढ़ाव की स्थिति हो सकती है। इस सप्ताह का द्वितीय भाग अनेक शुभ परिणाम देने वाला साबित रहेगा। दाम्पत्य जीवन में सुख-शांति और चाहत का क्रम स्थापित रहेगा। जीवन साथी के मध्य चल रहे मतभेदों को समाप्त करने में महती प्रगति के योग रहेंगे। आपका रूझान जीवन साथी को लुभाने की ओर हो सकता है, इस सप्ताह आप आकर्षक परिधानों की खरीद की ओर उन्मुख हो सकते है। धन निवेश व विदेश संदर्भों में महती उन्नति के योग रहेंगे। स्वास्थ्य संदर्भों में महती उन्नति के योग रहेंगे। चल रही पीड़ाएं समाप्त रहेगी। शारीरिक ताकत में इज़ाफा रहेगा। किन्तु इस सप्ताह का अंतिम भाग मिलेजुले परिणाम देने वाला रहेगा। सेहत में नरमी के आसार रहेंगे तथा धन संदर्भों में अधिक व्यय की आशंका रहेगी। विरोधी पक्ष को पराजित करने की क्षमताओं में वृद्धि के योग रहेगें। उत्पादन व विक्रय लक्ष्य का प्राप्त करने हेतु कशमकश करनी पड़ सकती है। संबंधित तथ्यों का ध्यान रखें।

taurus weekly horoscope




वृषभ राशि : इस सप्ताह के शुरूआती दौर से ही वृष राशि के जातक एवं जातिकाओ को योग्यताओं को निखारने में महती प्रगति के योग रहेंगे। शैक्षिक, तकनीक, चिकित्सा, सौंदर्य, फिल्म के संबंधित क्षेत्रों में उच्च मुकाम हासलि करने के सुअवसार रहेगे। इस सप्ताह प्रतियोगी व क्रीड़ा क्षेत्रों में दिया गया साक्षात्कार सफलता के संकेत देने वाला रहेगा। संतान पक्ष के हाथ पीले करने में महती प्रगति के योग रहेंगे। इस सप्ताह आपका वित्तीय स्तर उच्चता के संकेत देने वाला रहेगा। गृहस्थ जीवन में सुख-सुविधाओं को बढ़ाने में महती प्रगति के योग रहेंगे। प्रेम संबंधों के लिहाज से इस सप्ताह महती प्रगति प्राप्त होने के योग रहेंगे। इस सप्ताह का द्वितीय भाग कई संदर्भों में प्रतिकूल परिणाम देने वला रहेगा। इस सप्ताह के मध्य मे आपकों स्थानीय क्षेत्रों की यात्रा करनी पड़ सकती है। पूंजी संदर्भों को उच्च करने में महती प्रगति के योग रहेगे। इस सप्ताह का अंतिम भाग दाम्पत्य जीवन में सुख-शांति को बढ़ाने वाला रहेगा। जीवन साथी के अनुकूल वस़्त्राभूषणों की खरीद को हेतु आप उत्सुक हो सकते हैं। कार्य व व्यापार के संबंधित क्षेत्रों में महती प्रगति के योग रहेंगे। लंबित पड़ी योजनाओं को मूर्तरूप देने पर विचार हो सकता है।

मिथुन साप्ताहिक राशिफल
मिथुन राशि : इस सप्ताह के शुरूआती दिनों से ही मिथुन राशि के जातक एंव जातिकाओं को कोई न कोई शुभ समाचार पाप्त रहेगा। कार्य व व्यावसाय के संबंधित क्षेत्रों में तरक्की के योग विद्यमान रहेंगे। आज संबंधित अधिकारियों द्वारा आपको प्रोत्साहित किया जा सकता है। यदि आप रोजगार की तलाश में हैं, तो प्रयासों को तीव्र करें, निश्चित सफलता प्राप्त रहेगी। गृहस्थ जीवन भौतिक सुख के साधनों को जुटाने में महती प्रगति के योग रहेंगे। इस सप्ताह आपकी सेहत खिली हुई व जोश से पूर्ण रहेगी। चल रही पीड़ाओं को समाप्त करने में महती प्रगति के योग रहेंगे। इस सप्ताह का द्वितीय भाग आजीविका के संदर्भों में कामयाबी देने वाला रहेगा। आपकी वित्तीय स्थिति अधिक सुदृढ़ रहेगी, आप इच्छित वस्तुओं को संजोने और निर्माण कार्यों को मूर्तरूप देने में सफल रहेंगे। इस सप्ताह प्रेम संबधों में आपको इच्छित परिणाम हासिल होने वाले रहेंगे। साथी के मध्य मधुर वार्ताओ का क्रम छिड़ सकता है। पारिवारिक जीवन में भोग-विलास के साधनों को जुटाने मे महती प्रगति के योग विद्यमान रहेंगे। किन्तु इस सप्ताह के अंतिम भाग में सेहत संदर्भों में उतार-चढ़ाव की स्थिति उभर सकती है। धन संदर्भों में अधिक व्यय की आशंका रहेगी। संबंधित पहलुओं की उपेक्षा से बचे।

कर्क साप्ताहिक राशिफल
कर्क राशि : कर्क राशि के जातक एवं जातिकाओं को इस सप्ताह के प्रथम भाग से स्वजनों के मध्य तालमेल बिठाने मे महती प्रगति के योग रहेंगे। आजीविका के संदर्भों में किए गए प्रयासों का बढि़या लाभ रहेगा। इस सप्ताह राजनैतिक व सामाजिक जीवन में खुशहाली के योग रहेंगे। आपकी नेतृत्व क्षमताओं को संबंधित अधिकारियों द्वारा सराहा जा सकता है। आज पारिवारिक जीवन में धर्म कार्यों के आयोजनों को मूर्तरूप दिया जा सकता है। सेहत संदर्भों में पीड़ाएं उभर सकती हैं। संबंधित पहलुओं की उपेक्षा से बचें। इस सप्ताह का मध्य भाग आपके जीवन मे सुख-शांति को बढ़ाने वाला रहेगा। आपकी सेहत खिली हुई व जोश से पूर्ण रहेगी। आधुनिक सुख के साधनों को जुटाने मे महती प्रगति के योग रहेंगे। इस सप्ताह आपकी कार्मिक योग्यताओं को वरीयता प्राप्त होने के योग रहेंगे। कार्य व व्यावसाय के संबंधित क्षेत्रों में महती प्रगति के योग रहेंगे। इस सप्ताह के अंतिम भाग में आपका बौद्धिक स्तर उच्चता के संकेत देने वाला रहेगा। वैवाहिक जीवन मे मातृत्व सुख के योग दस्तक देगे। आपका वित्तीय स्तर उच्चता के संकेत देने वाला रहेगा। पारिवारिक जीवन में रहन-सहन का स्तर उच्च रहेगा। प्रेम संबंधों में निकटता व मधुरता की स्थिति रहेगी।

सिंह साप्ताहिक राशिफलसिंह राशि : सिंह राशि के जातक और जातिकाओं को इस सप्ताह के प्रारम्भिक भाग से ही अचल सम्पत्ति के मामलों में महती प्रगति प्राप्त होने के आसार रहेंगे। पितृ पक्ष से धन व स्नेह का लाभ रहेगा। इस सप्ताह पारिवारिक जीवन में खुशहाली के योग रहेंगे। अदालती मामलों में आपका पक्ष पहले के मुकाबले अधिक सबल रहेगा। शत्रु पक्ष को पराजित करने की ताकत में इज़ाफा रहेगा। सेहत संदर्भों में रूग्गणता और पीड़ाएं उभर सकती हैं। नियमित व्यायाम के क्रम को अवरूद्ध न करें। धन निवेश व विदेश मामलों में आपकी किस्मत बलवती रहेगी। शैक्षिक और कार्मिक योग्यताओं को बढ़ाने हेतु इस सप्ताह के प्रथम भाग में दीर्घावधिक के प्रवास व यात्राओं के योग रहेंगे। इस सप्ताह के मध्य भाग में आपका रूझान धर्म कार्यों की तरफ हो सकता है। सरकारी व निजी क्षेत्रों में दिया गया साक्षात्कार सफलता के संकेत देने वाला रहेगा। किसी प्रतिष्ठत संस्था के मध्य लंबी अवधि के कार्मिक समझौतों को मूर्तरूप दिया जा सकता है। इस सप्ताह के अंतिम भाग में आप वैवाहिक जीवन में सुख-शांति का अनुभव करेंगे। आधुनिक सुख के साधनों को जुटाने में महती प्रगति के योग रहेंगे। आपकी कार्मिक योग्यताओं को वरीयता के क्रम में रखें जाने के योग रहेंगे। सहकर्मियों के मध्य चल रहे विवादों को समाप्त करने में महती प्रगति के योग रहेंगे।




कन्या साप्ताहिक राशिफल
कन्या राशि : कन्या राशि के जातक व जातिकाओं को इस सप्ताह के शुरूआती दिनों में कई मामलों में शुभ परिणाम प्राप्त होने के आसार रहेंगे। आपकी सेहत खिली हुई उमंग व उत्साह से परिपूर्ण रहेगी। यदि कोई पीड़ाएं हैं, तो उनका अंत होना निश्चित रहेगा। इस सप्ताह आपकी कार्मिक योग्यताओं का बढि़या लाभ रहेगा। कार्य व व्यावसाय के संबंधित क्षेत्रों में वांछित तरक्की के योग रहेंगे। दिया गया साक्षात्कार सफलता के संकेत देने वाला रहेगा। वैवाहिक जीवन में हंसी-खुशी के पल रहेंगे। जीवन साथी से आज लंबे अन्तराल के बाद मुलाकात होगी, जो आपके उत्साह और प्रसन्नता को बढ़ाने वाला रहेगा। इस सप्ताह व्यापारिक संदर्भों में किसी नामी संस्था के मध्य समझौता हो सकता है। इस सप्ताह के द्वितीय भाग में आपको को स्थिर सम्पत्ति का लाभ रहेगा। पितृ पक्ष के मध्य चल रहे विवादों का अंत रहेगा। स्वजनों के सहयोग से किसी सामाजिक मामलें में आपकी सहमति बन सकती है। धन निवेश व विदेश संदर्भों में प्रयासों का बढि़या लाभ रहेगा। प्रेम संबंधों में निकटता हेतु कशमकश करनी पड़ सकती है। इस सप्ताह के मध्य भाग में सेहत में पीड़ाए उभर सकती हैं। इस सप्ताह का अंतिम भाग आपके भाग्य को चमकाने वाला रहेगा। राजकीय संदर्भों में खुशहाली के योग रहेंगे।

तुला साप्ताहिक राशिफल
तुला राशि : इस सप्ताह के प्रथम भाग से ही तुला राशि के जातक व जातिकाओ को आजीविका के संदर्भों में देश-देशान्तर में भ्रमण व प्रवास करना पड़ सकता है। धन निवेश व विदेश संदर्भों में दिया गया साक्षात्कार सफलता के संकेत देने वाला रहेगा। इस सप्ताह क्रमिक उन्नति हेतु आप उन्मुख रहेंगे। विरोधी पक्ष को उनकी ही भाषा में माकूल जवाब देने का कोई ठोस तरीका आप इज़हार कर सकते हैं। धन संदर्भों में अधिक व्यय भार बढ़ सकता है। सेहत संदर्भों मे नरमी के आसार रहेंगे। इस सप्ताह का मध्य भाग आपके सेहत को संवारने वाला तथा जोश व उत्साह को देने वाला रहेगा। यदि कोई पीड़ाएं हैं, तो उनका अंत होना निश्चित रहेगा। वैवाहिक जीवन में खुशहाली क योग रहेंगे। जीवन साथी के अनुकूल वस्त्राभूषणो की खरीद को मूर्तरूप दिया जा सकता है। इस सप्ताह के मध्य भाग में आप साझेदारी के व्यापार में बढ़त हासिल करेंगे। इस सप्ताह के अंतिम भाग में आपको स्थिर सम्पत्ति का लाभ रहेगा। पिता पक्ष के मध्य चल रहे विवादों को समाप्त करने में महती प्रगति रहेगी। पारिवारिक जीवन मे हंसी खुशी के पल रहेंगे। अर्थात् इस सप्ताह के प्रथम और अंतिम भाग की अपेक्षा मध्य भाग अधिक अनुकूल परिणाम देने वाला रहेगा।

वृश्चिक साप्ताहिक राशिफल
वृश्चिक राशि : वृश्चिक राशि के जातक और जातिकाओं हेतु इस सप्ताह के प्रथम भाग से ही वित्तीय संदर्भों मे महती प्रगति के योग रहेंगे। पारिवारिक जीवन मे खान-पान का स्तर उच्चता के संकेत देने वाला रहेगा। इस सप्ताह आपको बौद्धिक योग्यताओं को निखारने में महती प्रगति रहेगी। कला, साहित्य, संगीत, सौंदर्य, फिल्म, चिकित्सा के संदर्भों में महती प्रगति के योग रहेंगे। प्रतियोगी क्षेत्रों में दिया गया साक्षात्कार सफलता के संकेत देने वाला रहेगा। वैवाहिक जीवन मे संतान सुख के योग रहेंगे। प्रेम संबंधों में निकटता की स्थिति और मजबूत रहेगी। यदि साथी के मध्य कोई विवाद हैं, तो उन्हें हल करने में महती प्रगति के योग रहेंगे। इस सप्ताह के मध्य भाग में सेहत में पीड़ाएं हो सकती हैं। धन निवेश व विदेश संदर्भों में किस्मत साथ देगी। शत्रु पक्ष को पराजित करने में महती प्रगति के योग रहेंगे। सप्ताह के मध्य भाग में ननिहाल पक्ष के मध्य स्नेह व लगाव रहेगा। इस सप्ताह का अंतिम भाग सेहत को खिलाने वाला व शारीरिक सौंदर्य को बढ़ाने वाला रहेगा। वैवाहिक जीवन में हंसी-खुशी के पल रहेंगे। दिया गया साक्षात्कार सफलता के संकेत देने वाला रहेगा।

धनु साप्ताहिक राशिफलधनु राशि : धनु राशि के जातक एवं जातिकाओं को इस सप्ताह के प्रारम्भिक भाग से कार्य व व्यापार के संदर्भों में इच्छित उन्नति के योग रहेंगे। किए गए प्रयासों का बढि़या लाभ रहेगा। आपकी कार्मिक योग्यताओं को संबंधित अधिकारियों द्वारा सराहा जा सकता है। कार्य व व्यावसाय हेतु अनुकूल माहौल प्राप्त रहेगा। सेहत खिली हुई व जोश से पूर्ण रहेगी। यदि कोई पीड़ाएं हैं, तो उनका अंत होना निश्चित है। इस सप्ताह के प्रथम भाग से ही भू-भवन के संदर्भों में लाभ के योग विद्यमान रहेंगे। माता-पिता को आपके कार्य व व्यावहारों से प्रसन्नता रहेगी। इस सप्ताह के द्वितीय भाग में आपका वित्तीय स्तर उच्चता की ओर तेजी से बढ़ेगा। पारिवारिक जीवन मे रहन-सहन का स्तर उच्च रहेगा। आधुनिक सुख के साधनों में को जुटानें में महती प्रगति रहेगी। प्रतियोगी व कलात्मक, क्रीड़ा, संगीत, फिल्म, नृत्य, वाणिज्य के संदर्भों में ख्याति रहेगी। कहीं न कहीं से कोई सम्मान प्राप्त होगा। प्रेम प्रसंगों में साथी के मध्य तालमेल का स्तर पहले के मुकाबले अधिक रहेगा। यदि कोई मतभेद हैं, तो उन्हें समाप्त करने में महती प्रगति रहेगी। इस सप्ताह के मध्य भाग से संतान पक्ष की तरफ से कोई खुशी का समाचार रहेगा। किन्तु इस सप्ताह का अंतिम भाग सेहत संदर्भों में नरमी दे सकता है और व्यय भार को बढ़ाने वाला रहेगा। संबंधित तथ्यों की उपेक्षा से बचें।




मकर राशि : इस सप्ताह के प्रथम भाग से ही मकर राशि के जातक व जातिकाओं का स्वजनों के मध्य तालमेल स्थापित रहेगा। पारिवारिक जीवन में धर्म कार्यो के आयोजनों को मूर्तरूप देने पर विचार हो सकता है। आपकी भागीदारी सरकारी व निजी क्षेत्रों में बढ़ने के योग रहेंगे। किन्तु अचल सम्पत्ति में चिंताएं हो सकती हैं। संबंधित पहुओं का ध्यान रखना होगा। इस सप्ताह का द्वितीय भाग आपकी कार्मिक दक्षताओं को बढ़ाने वाला रहेगा। यदि आप प्रतियोगी क्षेत्रों की तैयारी कर रहें, तो निश्चित सफलता के योग रहेंगे। सेहत खिली हुई व जोश से पूर्ण रहेगी। पूर्व की पीड़ाओं को समाप्त करने में महती प्रगति के योग रहेंगे। गृहस्थ जीवन को संवारने के अवसर रहेंगे। इस सप्ताह संबंधित सेवा क्षेत्रों में आपकी तरक्की रहेगी। इस सप्ताह का अंतिम भाग प्रेम संबंधों में लगाव व चाहत को बढ़ाने वाला रहेगा। आपके आमदनी का स्तर पहले के मुकाबले इस सप्ताह के अंत तक अधिक उच्च रहेगा। पारिवारिक जीवन में चल रहा धनाभाव समाप्ति के संकेत देने वाला रहेगा। वैवाहिक जीवन में संतान सुख के योग रहेंगे। किन्तु मातृ पक्ष को लेकर इस सप्ताह चिंताएं उभर सकती है। अर्थात् इस सप्ताह अधिक शुभ परिणाम रहेगे।

कुम्भ साप्ताहिक राशिफल
कुम्भ राशि : इस सप्ताह के शुरूआती भाग से ही कुम्भ राशि के जातक व जातिकाओं को धन निवेश व विदेश संदर्भों मे इच्छित परिणाम प्राप्त होने के योग विद्यमान रहेंगे। किए गए प्रयासों का बढि़या लाभ रहेगा। शत्रु पक्ष को पराजित करने की ताकत में इज़ाफा रहेगा। शैक्षिक व कार्मिक योग्यताओं को निखाने तथा इच्छित लाभ प्राप्त करने हेतु देश-देशान्तर में यात्राएं करनी पड़ सकती हैं। सेहत में नरमी के आसार रहेंगे। संबंधित मामलों की उपेक्षा के बचें। इस सप्ताह के मध्य भाग में आजीविका के संदर्भों में आपका भाग्य प्रबल रहेगा। सरकारी व निजी क्षेत्रों में दिया गया साक्षात्कार सफलता के संकेत देने वाला रहेगा। इस सप्ताह के मध्य भाग में आपकी रूचि धर्म कार्यों की तरफ हो सकती है। सामाजिक जीवन व नेतृत्व संदर्भों में महती प्रगति के योग रहेंगे। इस सप्ताह का अंतिम भाग आपको कार्मिक व व्यापारिक उन्नति देने वाला रहेगा। संबंधित अधिकारियों द्वारा आपकी कार्मिक क्षमताओं को सराहा जा सकता है। इस सप्ताह के अंतिम भाग में आपकी सेहत खिली हुई व जोश से पूर्ण रहेगी। किन्तु स्वजनों के मध्य तालमेल बिठाने में चुनौती उभर सकती है।

मीन साप्ताहिक राशिफल
मीन राशि : मीन राशि के जातकों को इस सप्ताह के प्रथम भाग से अनेक शुभ व मांगलिक परिणाम प्राप्त होने के योग रहेंगे। स्वास्थ्य खिला हुआ व ताकत के पूर्ण रहेगा। यदि कोई पीड़ाएं हैं, तो उनका अंत होना निश्चित हैं, बशर्तें नियमित दिनचर्या को बनाएं रखें। इस सप्ताह का प्रथम भाग वैवाहिक जीवन में खुशहाली को बढ़ाने वाला रहेगा। इस सप्ताह जीवन साथी के मध्य गृहोपयोगी वस्तुओं की खरीद हेतु सहमति बनने के योग रहेंगे। कार्य व व्यावसाय के संदर्भों में दिया गया साक्षात्कार सफलता के संकेत देने वाला रहेगा। इस सप्ताह का मध्य भाग धन निवेश व विदेश संदर्भों में सफलता के संकेत देने वाला रहेगा। शत्रु पक्ष को पराजित करने की ताकत में इज़ाफा रहेगा। सेहत संदर्भों में पीड़ाएं उभर सकती हैं। तामसिक आहारों के सेवन बचना रहेगा। इस सप्ताह का अंतिम भाग प्रतियोगी व औद्योगिक क्षेत्रों को संवारने वाला रहेगा। सरकारी व निजी क्षेत्रों में दिया गया साक्षात्कार सफलता के संकेत देने वाला रहेगा। अर्थात् इस सप्ताह अधिक शुभ परिणाम प्राप्त होने के योग रहेंगे।